सीएम ने किया पठानकोट में पहली सिविल उड़ान का स्वागत

पठानकोट /चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज यहां पहली दिल्ली -पठानकोट -दिल्ली उड़ान का स्वागत किया जिससे पठानकोट क्षेत्रीय संपर्क स्कीम (आर.सी.एस.) में शामिल हो गया है। इस उड़ान स्कीम के साथ यह क्षेत्र हवाई संपर्क के साथ जुड़ गया है जिससे इस क्षेत्र में पर्यटन को प्रोत्साहन मिलेगा। मुख्यमंत्री ने पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान और गुरदासपुर से सांसद सुनील जाखड़ के साथ मिल कर दिल्ली से यहां आज दोपहर बाद पहुंची पहली सिविल उड़ान पर सवार यात्रियों का हवाई अड्डे पर स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज का दिन इस क्षेत्र के लिए बहुत ही ज़्यादा ख़ुशगवार है क्योंकि यह क्षेत्र अब देश के हवाई संपर्क से जुड़ गया है। यह क्षेत्र हिमाचल प्रदेश और जम्मू -कश्मीर से लगता है जिसके परिणाम स्वरूप इस क्षेत्र में पर्यटन को प्रोत्साहन मिलने की बहुत अधिक संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक सोमवार, मंगलवार और गुरूवार को होने वाली उड़ानों के परिणाम स्वरूप पर्यटन को भारी उत्साह मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि रणजीत सागर झील के नज़दीक पठानकोट-डलहौजी मार्ग पर अंतरराष्ट्रीय स्तर का पर्यटक स्थल विकसित करने की सरकार की योजना है जिससे इस क्षेत्र में पर्यटन को प्रोत्साहन मिलेगा। एक अनुमान के अनुसार यहां वार्षिक 50 हजार से अधिक सैलानी आऐंगे। पंजाब सरकार, भारत सरकार के शहरी उड्डयन मंत्रालय और एयरपोर्ट अथार्टी ऑफ इंडिया के बीच 15 जून 2017 को हुए समझौतो के परिणाम के चलते आज यह उड़ान शुरू हुई है। यह समझौता लुधियाना, आदमपुर, बठिंडा और पठानकोट से आर.सी.एस. के अधीन उड़ानें शुरू करने के लिए किया गया था। भारत सरकार के सिविल शहरी उड्डायन मंत्रालय की तरफ से राज्य सरकार के साथ मिल कर आर.सी.एस. स्कीम शुरू की है जिससे आम लोगों को सस्ते हवाई सफ र की सुविधा मुहैया करवाई जा सके। यह स्कीम वायोबिल्टी गैप फंडिंग (वी.जी.एस.) के सिद्धांत नीचे अमल में लाई है । 80 प्रतिशत वी.जी.एफ. भारत सरकार की तरफ से और 20 प्रतिशत राज्य सरकार की तरफ से सहन किया जाता है। पंजाब सरकार ने ए.टी.एफ. और एकत्रित होने वाले इंतज़ार की दर को आर.सी.एस. उड़ानों के लिए 1 प्रतिशत तक कम किया है। इस के साथ इस की तरफ से एयरपोर्ट टर्मिनल के लिए सभी सुरक्षा प्रबंध भी उपलब्ध करवाए गए हैं। इस अवसर पर सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण केंद्रीय राज्य मंत्री विजय सांपला, पठानकोट से विधायक अमित विज, भोआ के विधायक जोगिन्द्र पाल और सुजानपुर के दिनेश सिंह बब्बू उपस्थित थे।
Share this article