श्रमिकों के बच्चे भी कर सकेंगे ITI, खर्चा सरकार देगी

जयपुर। श्रमिकों के बच्चे भी अब ITI की पढ़ाई कर सकेंगे। इसका सारा खर्चा सरकार उठाएगी। श्रमिकों के कल्याण के लिए गठित सलाहकार बोर्ड की बैठक में यह फैसला किया गया। श्रम मंत्री जसवंत यादव की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह फैसला किया गया कि यदि पंजीकृत श्रमिकों के बच्चे ITI में दाखिला लेते हैं तो उनकी फीस का पुनर्भरण राज्य सरकार करेगी। सचिवालय में आज श्रमिक संनिर्माण कल्याण बोर्ड की बैठक में यह भी तय किया गया कि तमाम लाभान्वितों का सामाजिक अंकेक्षण किया जाएगा। श्रम मंत्री जसवंत यादव की अध्यक्षता में हुई बैठक में तय किया गया कि यदि श्रमिकों का बच्चा आईटीआई में कोर्स करना चाहेगा तो उसकी फीस का सरकार पुनर्भरण करेगी। यह फीस करीब 3400 रुपये बताई जाती है। इसके साथ ही पंजीकृत श्रमिकों के बच्चे सेंटर ऑफ एक्सीलेंस उदयपुर में भी कोर्स कर सकेंगे। बोर्ड की बैठक में ऑडिट कमेटी की रिपोर्ट का ब्यौरा रखा गया।साथ ही इस बार के बजट को मंजूर किया गया। पिछली बार 317 करोड का खर्चा किया गया था लेकिन इस बार कई योजनाएं संचालित होने से दुगना बजट खर्च किया जा रहा है। इसकी मंजूरी आज बोर्ड की बैठक में की गई। 21 लाख से ज्यादा श्रमिकों को पंजीकृत किया जा चुका है और करीब 4 लाख श्रमिक लाभान्वित हैं।
Share this article

यह भी पढ़े

यहां मुस्लिम है देवी मां का पुजारी, मां की अप्रसन्नता पर पानी हो जाता है लाल

खौफ में गांव के लोग, भूले नहीं करते ये काम