‘हर वर्ग, हर मजहब और हर व्यक्ति की उन्नति ही हमारा लक्ष्य’

श्रीगंगानगर/अनूपगढ़/जयपुर। प्रदेश के हर वर्ग, हर मजहब और हर व्यक्ति की उन्नति ही हमारा एकमात्र लक्ष्य है। सबके साथ और सबके विकास के लक्ष्य को हासिल करने में हमें काफी हद तक कामयाबी मिली है। एक सशक्त, उन्नत और प्रगतिशील राजस्थान की दिशा में आगे बढ़ते हुए हमारा प्रदेश शिक्षा में दूसरे स्थान पर और कौशल विकास में सबसे आगे पहुंच गया है। यह बात मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने अनूपगढ़ में आयोजित विशाल जनसभा में कही।घड़साना को नगरपालिका बनाने की घोषणा मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की मौजूदगी में शुक्रवार को श्रीगंगानगर जिले के अनूपगढ़ में आयोजित एक जनसभा के दौरान घोषणा की गई कि घड़साना ग्राम पंचायत को नगर पालिका बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री राजे के पिछले कार्यकाल में भी घड़साना को नगरपालिका घोषित किया गया था, लेकिन उसके बाद आई सरकार ने घड़साना को पुनः ग्राम पंचायत बना दिया था। अब घड़साना को एक बार फिर नगरपालिका बनाए जाने पर यहां के निवासियों की लंबे समय से चली आ रही मांग पूरी हो जाएगी। पोंग बांध विस्थापितों की समस्याओं का शीघ्र निस्तारण होगामुख्यमंत्री ने कहा कि पोंग बांध विस्थापितों की समस्याओं को दूर करने के लिए सरकार पूरे प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि पोंग विस्थापितों के 6-ए के प्रकरणों का शीघ्र निस्तारण किया जाएगा। इसके लिए जयपुर में आज हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से प्रदेश के मुख्य सचिव एवं राजस्व सचिव की बैठक हुई है। मैं भी महिला हूं, बहनों के साथ हर पल खड़ी हूंमुख्यमंत्री राज ने कहा कि मुझे गर्व है कि मैं एक महिला हूं और इस नाते मैं जन्म से लेकर आखिरी सांस तक अपनी बहनों के साथ हर पल खड़ी हूं। हमने महिलाओं के लिए जो योजनाएं शुरू की हैं, वे जन्म से लेकर वृद्धावस्था तक महिलाओं को आत्मनिर्भर बना रही हैं। उन्होंने कहा कि राजश्री योजना में बेटी को लक्ष्मी का रूप मानकर जन्म से लेकर लगातार सरकारी स्कूल में 12वीं कक्षा पास करने तक उसे 50 हजार रुपए हमारी सरकार देती है। इसके अलावा साइकिल, स्कूटी, लेपटॉप, छात्रवृत्ति, स्कूल दूर होने पर आने-जाने के लिए वाउचर, श्रमिक कार्डधारी है तो विवाह के लिए 55 हजार रुपए देकर महिला को सशक्त किया जा रहा है। महिला परित्यक्ता, विधवा, दिव्यांग और वृद्धा है तो उसे पेंशन दी जा रही है। पालनहार योजना में बच्चों को पालने के लिए 1 हजार रुपए तक प्रति बच्चा हर माह दिए जा रहे हैं।महिलाओं को घर की मुखिया बनाया
Share this article

यह भी पढ़े

यहां मुस्लिम है देवी मां का पुजारी, मां की अप्रसन्नता पर पानी हो जाता है लाल

खौफ में गांव के लोग, भूले नहीं करते ये काम