शिकागो में बोले मोहन भागवत, हजारों साल से प्रताड़ित हो रहे हिंदू

शिकागो। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने हिन्दू समुदाय से एकजुट होकर मानव कल्याण के लिए काम करने की अपील की है। धर्म संसद में स्वामी विवेकानंद के ऐतिहासिक भाषण की 125वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित विश्व हिंदू सम्मेलन में करीब 25000 लोगों को संबोधित करते हुए भागवत ने कहा है कि हिन्दू समाज में प्रतिभावान लोगों की संख्य सबसे ज्यादा है, लेकिन वे कभी साथ नहीं आते हैं। भागवत ने कहा कि हिन्दुओं का साथ आना अपने आप में मुश्किल है। भागवत ने कहा, लेकिन वे कभी साथ नहीं आते हैं। हिन्दुओं का साथ आना अपने आप में मुश्किल है। उन्होंने कहा कि हिन्दू हजारों वर्षों से प्रताडि़त हो रहे हैं क्योंकि वो अपने मूल सिद्धांतों का पालन करना और आध्यात्मिकता को भूल गये हैं। सभी लोगों के साथ आने पर जोर देते हुए भागवत ने कहा, हमें साथ आना होगा।इस दौरान आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा, शेर अकेला हो तो उसे जंगली कुत्ते भी घेरकर हरा सकते हैं, इसीलिए हिंदुओं का मिलकर काम करना जरूरी है। अमेरिका के शिकागो में हो रही विश्व हिंदू कांग्रेस में मोहन भागवत ने इस बात पर अफसोस जाहिर किया कि हिंदू समाज कभी एक साथ नहीं आता।
Share this article

यह भी पढ़े

प्यार और शादी के लिए तरस रही है यहां लडकियां!

यहां मुस्लिम है देवी मां का पुजारी, मां की अप्रसन्नता पर पानी हो जाता है लाल

क्या आपकी लव लाइफ से खुशी काफूर हो चुकी है...!

अजब गजबः यहां शिवलिंग पर हर साल गिरती है बिजली

आपके हाथ में पैसा नहीं रूकता, तो इसे जरूर पढ़े

यहां कब्र से आती है आवाज, ‘जिंदा हूं बाहर निकालो’