निर्भया कांड में दोषियों की मौत में देरी को लेकर जेल अधिकारियों को नोटिस

नई दिल्ली। दिल्ली में 16 दिसंबर 2012 को हुए निर्भया कांड ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था। अदालत ने इस मामले में चार आरोपियों को मौत की सजा को बरकरार रखा हैं। अब इस मामले में दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) ने दोषियों के मृत्युदंड पर अमल में देरी पर तिहाड़ जेल के अधिकारियों को नोटिस जारी किया है। बता दे, इस मामले में पिछले साल मई में सुप्रीम कोर्ट ने 23 साल की मेडिकल छात्रा से बलात्कार करने और बाद में उसकी हत्या किए जाने के चार दोषियों की मौत की सजा को बरकरार रखा था। डीसीडब्ल्यू ने दोषियों की सजा पर अमल में देरी करने पर मांगा स्पष्टीकरण...वहीं, इस साल जुलाई में सुप्रीम कोर्ट ने तीन दोषियों के जरिए दायर पुनर्विचार याचिकाएं खारिज की थीं, जबकि चौथे दोषी ने फैसले पर पुनर्विचार का अनुरोध नहीं किया था। अब तिहाड़ जेल के अधिकारियों को नोटिस जारी करते हुए डीसीडब्ल्यू प्रमुख स्वाति मालीवाल ने इन दोषियों की सजा पर अमल में देरी करने को लेकर स्पष्टीकरण मांगा है।15 सितंबर तक जवाब दें अधिकारी...मालीवाल ने कहा, ‘समाज में कड़ा प्रतिरोधक पैदा करने के लिए उन्हें जल्द से जल्द सजा-ए-मौत दी जानी चाहिए।’ उन्होंने अधिकारियों से पूछा गया कि मौत की सजा पर अमल संबंधी आदेश जारी किया गया है या नहीं। इसमें कहा गया कि अगर अमल आदेश जारी नहीं किया गया है तो इसके कारण बताए जाएं। अधिकारियों से 15 सितंबर तक जवाब देने को कहा गया है।गौरतलब है कि 16 दिसंबर 2012 को दिल्ली में हुए बलात्कार और हत्या के मामले ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने 4 आरोपियों को दोषी करार देने के साथ फांसी की सजा सुनाई थी।
Share this article

यह भी पढ़े

इस लडकी का हर कोई हुआ दीवाना, जानें...

खौफ में गांव के लोग, भूले नहीं करते ये काम

यहां कब्र से आती है आवाज, ‘जिंदा हूं बाहर निकालो’

इस पेड से निकल रहा है खून, जानिए पूरी कहानी

अजब गजबः यहां शिवलिंग पर हर साल गिरती है बिजली

अजब- गजबः बंद आंखों से केवल सूंघकर देख लेते हैं ये बच्चे