जानिए... पंचर लगाने वाला आसिफ खान से आशु भाई गुरुजी बनने तक की पूरी कहानी

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद की महिला और उसकी बेटी से यौन शोषण में घिरे बाबा आशु को लेकर अब नए-नए खुलासे हो रहे है। विश्वविख्यात ज्योतिषचार्य और हस्तरेखा विशेषज्ञ होन का दावा करने वाला आशु बाबा या आशु भाई गुरुजी के नाम से चैनल पर आने वाले शख्स का असली नाम आसिफ खान है। इस ज्योतिष बाबा की कुंडली जब पुलिस ने खोलनी शुरु की तो पता चला कि ये बाबा तो बहुत बड़ा बहरुपिया है। इसने फर्जी नाम रखने के साथ ही लोगों से अपना धर्म छिपाए रखा। मुसलमान होकर ये हिंदू होने का ढोंग करता रहा। जांच में खुलासा हुआ है कि वह हिंदू नहीं बल्कि मुसलमान है। दिल्ली के प्रीतमपुरा के तरुण एंक्लेव में इसका मकान है और रोहिणी सेकटर-7 बी 4/77-78 में इसका आश्रम है। अपने असली नाम और पहचान को जाहिर न करना उसकी भूमिका पर सवालिया निशान लगाता है। आशु बाबा के आशु गुरुजी बनने की कहानी बेहद ही रोचक है।गाजियाबाद की रहने वाली एक महिला और उनकी नाबालिग बेटी से कई वर्षों से यौन शोषण में घिरा बाबा आशु अपनी असली पहचान छिपाकर ज्योतिष का कारोबार चला रहा है। 1990 तक दिल्ली के वजीरपुर स्थित जेजे कॉलोनी में रहने वाला आशु वर्तमान में करोड़ों का मालिक है। अब इसके पास करोड़ों रुपये की तो केवल कारें ही हैं। बताया जाता है कि सराय रोहिल्ला थाना के पदम नगर इलाके में इसने अपना धंधा शुरू किया था। एक दिन अचानक वहां से अपना धंधा बंद कर दिया। हैरानी की बात है कि दूसरों का भविष्य बताने का दावा करने वाले आशु के घर पर उसका नौकर ही 50 लाख रुपये लेकर भाग गया।
Share this article

यह भी पढ़े

खौफ में गांव के लोग, भूले नहीं करते ये काम

इस पेड से निकल रहा है खून, जानिए पूरी कहानी

क्या आपकी लव लाइफ से खुशी काफूर हो चुकी है...!

यहां कब्र से आती है आवाज, ‘जिंदा हूं बाहर निकालो’

यहां मुस्लिम है देवी मां का पुजारी, मां की अप्रसन्नता पर पानी हो जाता है लाल

इस लडकी का हर कोई हुआ दीवाना, जानें...