मेरठ में हिन्दू अदालत का गठन, हाईकोर्ट ने दिया यूपी सरकार को नोटिस

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ में शरिया अदालत की तरह हिन्दुओं के लिए हिन्दू अदालत का गठन किया गया है। इसमें हिंदू अदालत की पहली जज डॉ.पूजा शकुन पांडे को नियुक्त किया गया है। पहली जज पांडे का कहना है कि हमारा संगठन अखिल भारत हिंदू महासभा नाथू राम गोडसे को पूजता है। इस पर मुझे गर्व महसूस होता है। वे सामाजिक कार्यकर्ता और गणित की प्रोफेसर हैं। अखिल भारत हिंदू महासभा नामक संगठन ने उत्तर प्रदेश के मेरठ में देश की पहली कथित हिंदू अदालत स्थापित करने का दावा कर रहा है। उनका कहना है कि शरिया अदालतों की तरह पूरे देश में हिंदू अदालतों की स्थापना की जाएगी। इस अदालत में अलीगढ़ की डॉ.पूजा शकुन पांडे को पहला न्यायाधीश नियुक्त किया है। महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अशोक शर्मा ने दावा किया कि हिंदू अदालतों में जमीन विवाद, मकान और विवाह के मामले आपसी सहमति से सुलझाने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 2 अक्टूबर को इन नियमों को सार्वजनिक करने की योजना है। हिंदू अदालत बनाने पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को नोटिस जारी करते हुए इस मामले पर जानकारी चाही है। वहीं कोर्ट ने डीएम मेरठ और हिंदू कोर्ट की कथित जज पूजा शकुन पांडे को पक्षकार बनाने का निर्देश देते हुए भी नोटिस भी जारी कर दिया है। इस मामले की अगली सुनवाई 11 सितम्बर को होनी है। अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्र प्रकाश कौशिक कोर्ट की ओर से मामले का लेने से खुश होते हुए बताया कि अच्छा ही है, यह मामला कोर्ट के सामने आएगा। इस देश में मुसलमानों के लिए शरिया अदालतें बन सकती हैं तो हिंदू अदालतों के होने में क्या समस्या आ रही है।
Share this article

यह भी पढ़े

इस पेड से निकल रहा है खून, जानिए पूरी कहानी

यहां कब्र से आती है आवाज, ‘जिंदा हूं बाहर निकालो’

क्या आपकी लव लाइफ से खुशी काफूर हो चुकी है...!