चीन से पानी के जरिए आ रहा खतरा, असम में अलर्ट जारी

नई दिल्ली। चीन ने एक बार फिर से भारत के लिए परेशानी की स्थिति पैदा कर दी है। इस बार चीन ने एक अलर्ट जारी किया है। भारत में ब्रह्मपुत्र के नाम से मशूहर चीन की सांगपो नदी का लगातार हो रही बारिश से जलस्तर काफी बढ़ गया है। इसे लेकर चीन ने भारत से भी जानकारी साझा करते हुए सतर्क रहने को कहा है क्योंकि इससे असम के निचले इलाकों में बाढ़ आ सकती है। जल संसाधन मंत्रालय की मानें तो सांगपो नदी इतने उफान पर है कि इसने 150 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। चीनी मीडिया की मानें तो चीन ने सांगपो (ब्रह्मपुत्र) नदी में 9020 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। चीन द्वारा जानकारी साझा करने के बाद ब्रह्मपुत्र नदी के आसपास रहने वाले लोगों को अलर्ट कर दिया गया है। असम के ऊपरी सियांग जिलों के लोगों को सतर्क किया गया है। चीन की इस चेतावनी को देखते हुए असम में डिब्रूगढ़ के अफसरों को जिला मुख्यालय नहीं छोडने की हिदायत दी है। अफसरों को बताया गया है कि चीन द्वारा पानी छोड़े जाने पर ब्रह्मपुत्र नदी का जलस्तर बढ़ गया तो भीषण बाढ़ आ सकती है। अरुणाचल प्रदेश के सांसद निनोंग एरिंग ने भी इस बात की पुष्टि करते हुए कहा है कि चीन ने सियांग/ब्रह्मपुत्र नदी के लिए भारत को बाढ़ का अलर्ट जारी किया है। खबरों के मुताबिक, नदी का पानी जिस खतरनाक रूप से बढ़ रहा है उससे मोटरबोट और नौका से रेस्क्यू बेहद मुश्किल नजर आ रहा है। पूर्वी सियांग जिला प्रशासन ने असम के मोहन बाड़ी, डिब्रूगढ़ में वायुसेना बेस के स्टेशन कमांडर को एक आग्रह पत्र भेजा है। पत्र में कहा गया है कि द्वीप में चॉपर्स की लैंडिंग संभव नहीं है, इसलिए यह केवल वायुसेना ही फंसे लोगों को वहां से बचा सकती है। वायुसेना के सूत्रों ने पत्र मिलने की पुष्टि की है। राहत और बचाव कार्य शुरू होने के लिए टीम पहुंच गई है।
Share this article