एक ट्वीट ने 26 नाबालिग लड़कियों को बचाया

गोरखपुर। उत्तरप्रदेश के गोरखपुर में राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) और रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (आरपीएफ) ने मुजफ्फरपुर बांद्रा अवध एक्सप्रेस ट्रेन में यात्रा कर रहीं 26 नाबालिग लड़कियों को बचाया है। इस बारे में 5 जुलाई को एक यात्री ने ट्वीट कर जानकारी दी थी कि वह अवध एक्सप्रेस के कोच नंबर एस 5 में यात्रा कर रहा है और यहां करीब 25 लड़कियां हैं जो बेहद परेशान दिख रही हैं और रो रही हैं। इस ट्वीट के बाद रेलवे तुरंत हरकत में आ गया। ट्विटर के माध्यम से सूचना मिलने के आधे घंटे के भीतर मामले की तहकीकात शुरू हो गई। जीआरपी ने चाइल्ड लाइन तथा मानव तस्करी रोधी यूनिट (पुलिस) के साथ मिलकर जांच को आगे बढ़ाया। टीम को शक था कि ये मामला बाल तस्करी का हो सकता है। सादी वर्दी में आरपीएफ के दो जवानों को ट्रेन में भेजा गया। जीआरपी की एसपी ने बताया, ‘जीआरपी और आरपीएफ की एक संयुक्त टीम ने बाल तस्करी के शक में 26 नाबालिग लड़कियों और दो पुरूषों को अवध एक्सप्रेस से पकड़ा है। ये लोग चंपारण (बिहार) से आगरा के ईदगाह जा रहे थे। जांच जारी है। टीमों को बिहार और आगरा भेजा गया है।’ रेलवे के प्रवक्ता के मुताबिक, जब जांच टीम ने लड़कियों से सवाल किया गया तो वे संतोषजनक जवाब नहीं दे सकीं। लड़कियों की उम्र 10-14 साल के बीच बताई जा रही है जिन्हें फिलहाल बाल कल्याण समिति को सौंप दिया गया। आरपीएफ ने बताया कि उनके माता-पिता को इस बारे में जानकारी दे दी गई है।
Share this article

यह भी पढ़े

क्या आपकी लव लाइफ से खुशी काफूर हो चुकी है...!

यहां कब्र से आती है आवाज, ‘जिंदा हूं बाहर निकालो’

इस पेड से निकल रहा है खून, जानिए पूरी कहानी