‘यह मानसिक बीमारी है और इसका इलाज किया जा सकता है’

मुंबई। अपनी आगामी फिल्म ‘द डार्क साइड ऑफ लाइफ : मुंबई सिटी’ की रिलीज के लिए तैयार दिग्गज फिल्मकार महेश भट्ट का कहना है कि हमारे देश में मानसिक बीमारी के बारे में जागरूकता लाने की कमी है।महेश भट्ट ने सोमवार को सह-कलाकार निखिल रत्नापारखी, अलीशा खान, निर्देशक तारिक खान और निर्माता राजेश परदासानी के साथ ‘द डार्क साइड ऑफ लाइफ : मुंबई सिटी’ के ट्रेलर लॉन्च पर संवाददाताओं से बातचीत की।फिल्म हमारे समाज में अकेलेपन, सांप्रदायिक सद्भाव और मानसिक स्वास्थ्य जैसे कई संवेदनशील मुद्दों पर है।समाज में आत्महत्या के बढ़ते मामलों के बारे में बात करते हुए भट्ट ने कहा, ‘‘यह मानसिक बीमारी का एक रूप है और इसका इलाज किया जा सकता है। जब आप मधुमेह से पीडि़त होते हैं, तो आपको इंसुलिन शॉट लेना पड़ता है।’’उन्होंने कहा, ‘‘इसी तरह जब आप अवसाद की ओर बढ़ते होते हैं तो आपको डॉक्टर से परामर्श करने की आवश्यकता होती है, जो मेडिटेशन से आपका इलाज करते हैं, लेकिन मुझे लगता है कि हमारे देश में मानसिक बीमारी के बारे में जागरूकता की कमी है। लगभग हर घर में लोग अवसाद से पीडि़त हैं।’’ (आईएएनएस)
Share this article

यह भी पढ़े

जब इस डायरेक्टर ने राखी गुलजार को मारा था थप्पड़

तेल बेचकर जीवनयापन करने को मजबूर हो गई थी मुग्धा गोडसे

अमिताभ बच्चन ने दी थी अनिल कपूर को यह सलाह, कहा था...

आज के दिन अमिताभ बच्चन को मिला था दूसरा जन्म

शाहरूख ने खोला अपने रोमांटिक होने का यह सबसे बड़ा राज

‘हवा-हवाई गर्ल’ ने राखी भाई से की हैं शादी, पहले से थी प्रेग्नेंट