जन्माष्टमी पर जपें ये 8 चमत्कारी कृष्ण मंत्र, मिलेगी अकूत दौलत-शोहरत

आगामी 15 अगस्त को श्रीकृष्ण आ रहे हैं। इस दिन पूरे देश में श्रीकृष्ण का जन्म् धूमधाम से मनाया जाएगा। कहते हैं कि भगवान श्री कृष्ण की अपने भक्तों पर विशेष अनुंकपा होती है। वे सखा के रूप में सुदामा का उद्धार करते हैं तो अर्जुन के सारथी बन उन्हें कर्तव्य पालन की प्रेरणा भी देते हैं। वे प्रेम में राधा हो जाते हैं तो मीरा के गिरधर गोपाल बन जहर के प्यालों को अमृत कर देते हैं। उनके बचपन की शुरुआत से लेकर व्याध द्वारा शिकार होने तक उनका जीवन चमत्कारों की गाथा कहता है। वे द्रोपदी के रक्षक भी हैं तो गोवर्धन उठाकर इंद्र के अहंकार को भी तोड़ते हैं ऐसे दयालु कृपालु श्री कृष्ण की भक्ति में भला कौन नहीं डूबना चाहेगा। वैसे तो उनकी कृपा पाने के लिये श्री कृष्ण को समर्पित हो जाना ही पर्याप्त है लेकिन श्री कृष्ण की कृपा पाने के कुछ विशेष मंत्र भी हैं। इन मंत्रों की मान्यता इतनी अधिक है कि माना जाता है इनके जाप करने से रंक भी राजा हो जाता है। तो आइये जानते इन मंत्रो के बारे में-श्री कृष्ण के मंत्र श्री कृष्ण के इन मंत्रों से आपके जीवन में धन संपदा की कोई कमी नहीं रहती व आप सौन्दर्य को प्राप्त करते हैं। इतना ही नहीं यह मंत्र काफी सरल हैं जिनका उच्चारण भी आप आसानी से कर सकते हैं। कृं कृष्णाय नम: यह भगवान श्रीकृष्ण का मूलमंत्र बताया जाता है। मान्यता है कि इस मंत्र के जाप करने से आपका रूका हुआ धन प्राप्त हो जाता है व घर परिवार में मंत्र की सकारात्मक ऊर्जा से सुख शांति बनी रहती है। इस मंत्र का जाप प्रात:काल में स्नानादि के पश्चात 108 बार करना चाहिये।
Share this article

यह भी पढ़े

क्या होता है पितृदोष व मातृदोष

इस दिशा में हो मंदिर, तो घर में होती है कलह

कुंडली का ये भाव बताता है आप ‘अमीर’ है या ‘गरीब’

यह उपाय करने से शांत होंगे शनि दोष

शाम को ना करें ये काम, वरना हो जाएंगे कंगाल

इन कार्यो को करने से आएगी घर में परेशानी