इन पौराणिक कहानियों के कारण मनाया जाता है रक्षाबंधन का पर्व

रक्षाबंधन का पर्व ऐसा पर्व है। जिसमे हिंदू मुस्लिम दोनों समुदायों के लोग प्रेम पूर्वक मनाते है। हिंदू बहिने मुसलमान भाइयों की कलाई पर राखी बांधती है और मुस्लिम बहिने हिंदू भाइयों को राखी बांधकर उनसे रक्षा का वचन लेती है। प्रेम सौहार्द का ऐसा अनूठा त्यौहार अन्य समुदायो को एक संदेश देता है। इस देश में मनाये जाने प्रत्येक पर्व का कोई न कोई पौराणिक व ऐतिहासिक कहानी रही है। जिसकी वजह से पर्व मनाये जाते है। लेकिन फिर भी आज की युवा पीढी के मन में एक जिज्ञासा बनी रहती है कि आखिर रक्षाबंधन का पर्व क्यों मनाया जाता है। रक्षाबंधन पर्व की भी एक पौराणिक कहानी है, जिसके अनुसार लोग इस पर्व को बडी धूम धाम से मनाते है। राखी के पर्व की शुरुआत कब से हुई इसकी कोई निश्चित जानकारी तो नहीं है पर पुराणों में इस पर्व से सम्बंधित कुछ कथाएं है जो हम आज आपको बातएंगे।
Share this article

यह भी पढ़े

गिफ्ट में ना दे ये 10 चीजें, शनिदेव हो जाएंगे नाराज!

बनते काम बिगड रहे हैं तो समझिए आपका गुरु नीच का है, करें ये उपाय

उपहार में ये चीजें भूलकर भी ना लें और न ही दें

इन राशियों की लडकियां किसी को भी कर सकती हैं आकर्षित, जानें कैसे!

क्यों काटा ब्रह्मा का 5वां सिर, जानें-शिव के 19 अवतार

जानें, कितना वफादार है आपका पार्टनर