इन पौराणिक कहानियों के कारण मनाया जाता है रक्षाबंधन का पर्व

रक्षाबंधन का पर्व ऐसा पर्व है। जिसमे हिंदू मुस्लिम दोनों समुदायों के लोग प्रेम पूर्वक मनाते है। हिंदू बहिने मुसलमान भाइयों की कलाई पर राखी बांधती है और मुस्लिम बहिने हिंदू भाइयों को राखी बांधकर उनसे रक्षा का वचन लेती है। प्रेम सौहार्द का ऐसा अनूठा त्यौहार अन्य समुदायो को एक संदेश देता है। इस देश में मनाये जाने प्रत्येक पर्व का कोई न कोई पौराणिक व ऐतिहासिक कहानी रही है। जिसकी वजह से पर्व मनाये जाते है। लेकिन फिर भी आज की युवा पीढी के मन में एक जिज्ञासा बनी रहती है कि आखिर रक्षाबंधन का पर्व क्यों मनाया जाता है। रक्षाबंधन पर्व की भी एक पौराणिक कहानी है, जिसके अनुसार लोग इस पर्व को बडी धूम धाम से मनाते है। राखी के पर्व की शुरुआत कब से हुई इसकी कोई निश्चित जानकारी तो नहीं है पर पुराणों में इस पर्व से सम्बंधित कुछ कथाएं है जो हम आज आपको बातएंगे।
Share this article

यह भी पढ़े

झूठ बोलने से नहीं मिलेगा इन कार्यो का फल

इन बातों का रखें ध्यान, भरे रहेंगे धन के भंडार

इस दिशा में हो मंदिर, तो घर में होती है कलह

हरिद्वार में है भटके हुए देवता का मंदिर

इस मंत्र से पूजें गणेश,बन जाएंगे बिगडे काम

क्या होता है पितृदोष व मातृदोष